About me

News Box Bharat
Welcome to News Box Bharat, your one-stop destination for comprehensive news coverage and insightful analysis. With a commitment to delivering reliable information and promoting responsible journalism, we strive to keep you informed about the latest happenings from across the nation and the world. In this rapidly evolving era, staying updated and making sense of the news is crucial, and we are here to simplify the process for you.

Recent Posts

+91 6205-216-893 info@newsboxbharat.com
Monday, May 20, 2024
Latest Hindi NewsNews

हटिया कचनारटोली ईदगाह का मामला तूल पकड़ा | डीसी को ज्ञापन सौंपकर दोषी पदाधिकारियों पर कार्रवाई की मांग

Jharkhand districts news | jharkhand latest news | jharkhand latest hindi news | jharkhand news box bharat
Share the post

ईदगाह की भूमि रजिस्ट्री गिफ्ट पर सेना का दावा गलत

रांची। पिछले दिनों हटिया कचनारटोली ईदगाह मैदान, हेसाग में बाउंड्रीवॉल कराने के बाद 14 लोगों को जेल भेजे जाने का मामला पूरी तरह से तूल पकड़ लिया है। सोमवार को मुस्लिम समुदाय के लोगों ने रांची के डीसी से मुलाकात कर पूरी मामले की जानकारी दी साथ ही इससे संबंधित कागजात भी सौंपे। प्रतिनिधिमंडल ने डीसी को बताया कि 9 अप्रैल को जगरनाथ पुलिक के द्वारा ईदगाह की जमीन पर कराई जा रही बाउंड्रीवॉल को रोकवा दिया गया। साथ ही थाना की ओर से कहा गया की शाम में कागज लेकर थाना आए। चूंकि रमजान का महीना चल रहा था, इसलिए कमेटी के लोग रात में थाना गए। संबंधित सभी कागजात के साथ मुहल्ले के प्रबुद्ध लोग, जिसमें दो वकील भी थे थाना गए। लेकिन कुछ देर थाना में बैठाने के बाद सभी लोगों को रात के करीब 10 बजे जगरनाथपुर थाना से कहीं आैर ले गए। फिर दूसरे दिन 14 लोगों को जेल भेज दिया गया। प्रतिनिधिमंडल ने डीसी को बताया की बिना किसी जांच के ईद के 2 दिन पहले इतने लोगों को जेल भेजना कहां का न्याय है। लेकिन पुलिस ने जोर जबरदस्ती करके सभी को जेल भेजा। प्रतिनिधिमंडल में अंजुमन इस्लामिया रांची के महासचिव डॉ तारिक हुसैन, मो नौशाद, आमया संगठन के एस अली, मुस्लिम युवा मंच के शाहिद अयूबी, वरीय अधिवक्ता एके रशीदी, अधिवक्ता अजहर खान, झारखंड आंदोलनकारी आजम अहमद, इदरिसया चौरासी पंचायत के मो इस्लाम, गद्दी पंचायत के मेराज गद्दी, मो. परवेज, कचनार टोली पंचायत के मो. सरवर, आमीर खान, रहमान, शहबाज शाह सहित अन्य शामिल थे।

35 वर्षों से ईद की नमाज पढ़ी जा रही

डीसी को बताया गया की मौजा-कचनार टोली, खाता नंबर-01 प्लाट नo-370 में रकबा 50 डिसमील भूमि जो 21/01/1989 को भू-स्वामी कृष्णा नायक पिता रामेश्वर नायक द्वारा Al Amin Religious & Charitable Trust kachnar Toli Ranchi को किए गए Ragiseted gift Deed के साथ ही बालेश्वर महतो पिता किशुन महतो द्वारा 10/10/1991 को 25-25 डिसमील भूमि जो छोटानागपुर मोमिन इस्लाहिया कमिटी कचनार टोली हेसाग रांची के नाम किए गए। 2 रजिस्ट्रर्ड गिफ्ट, जिसमें ईदगाह एवं कर्बला अवस्थित है और वहां लगभग 35 वर्षों से ईद व बकरीद व जनाजा की नमाज़ के साथ-साथ मुहर्रम का अखाड़ा भी लगाया जाता है।

जगरनाथपुर थाना प्रभारी ने जोर जबरदस्ती किया

खाता न-1 प्लाट न- 370 कुल रकबा 4 एकड़ 21 डिसमील से भू-स्वामी कृष्णा नायक द्वारा अलग-अलग लोगों को बेचा भी गया है। जिसमें कई अपार्टमेंट और बड़े बड़े घर व दुकान बने हुए है। साथ ही सरना स्थल को भी दिया गया है, उससे संबंधित मूल डीड पट्टा जगन्नाथपुर थाना प्रभारी को दिया गया। लेकिन थाना प्रभारी कोई बात सुनने को तैयार नही हुए और कागजात को जब्त कर बलपूर्वक मिलने आये 14 लोगों को गिरफ्तार कर नामजद व अज्ञात 150 लोगों पर रंगदारी, मारपीट एवं सरकारी कार्य में बाधा डालने का मनगढ़ंत व झूठा प्राथमिकी दर्ज कर रात में ही कोतवाली थाना ले जाया गया एवं दूसरे दिन 10/4/2024 को जेल भेज दिया गया जो। जो नियमविरुद्ध एवं कानून के साथ खिलवाड़ व उल्लंघन है। 11/4/2024 को ईदगाह में धारा- 144 लगाकर ईद की नमाज भी पढ़ने नही दिया गया।

एलआरडीसी से जांच कराया जाएगा

गलत तरीके से बनाए गए नामजद एवं अज्ञात आरोपियों द्वारा ना तो पुलिस एवं आवेदक एमके राय के साथ मारपीट अभद्र भाषा का प्रयोग किया गया और ना ही रंगदारी और सरकारी कार्य में बाधा डाला गया, जो उक्त दिन के सीसीटीवी फुटेज व मोबाइल की जांच करने से साबित हो जाएगा। प्रतिनिधिमंडल ने उपायुक्त से घटने कि उच्चस्तरीय जांच कराते हुए निर्दोष लोगों की रिहाई व न्याय दिलवाने के साथ मनगढ़ंत व झूठा आरोप लगाने वाले व्यक्ति एवं बिना सम्पूर्ण जांच किए ईद जैस महत्वपूर्ण त्योहार को नजरंदाज कर रोजेदारों को जेल भेजने वाले दोषी पदाधिकारियों पर कार्रवाई करने कि मांग किया। उपायुक्त ने एलआरडीसी से जांच कराने और न्याय उचित कार्रवाई का भरोसा दिया।


Leave a Response